Deepender Hooda ने कार्यकताओं से की बैठक, ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की तैयारियों को लेकर की समीक्षा

झज्जर: सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने आज बहादुरगढ़ में झज्जर जिले के कार्यकताओं की बैठक को लेकर भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की और स्थानीय नेताओं व कार्यकर्ताओं को आवश्यक निर्देश दिये। बहादुरगढ़ में मौजूद कार्यकर्ताओं का जोश देखकर उन्होंने कहा कि हरियाणा में कांग्रेस के पक्ष में सत्ता परिवर्तन की लहर चल रही.

झज्जर: सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने आज बहादुरगढ़ में झज्जर जिले के कार्यकताओं की बैठक को लेकर भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की और स्थानीय नेताओं व कार्यकर्ताओं को आवश्यक निर्देश दिये। बहादुरगढ़ में मौजूद कार्यकर्ताओं का जोश देखकर उन्होंने कहा कि हरियाणा में कांग्रेस के पक्ष में सत्ता परिवर्तन की लहर चल रही है। भारत जोड़ो यात्रा से इस लहर को और तेजी मिलेगी। उन्होंने बताया कि राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रही ऐतिहासिक भारत जोड़ो यात्रा 21 दिसंबर को मुंडाका (नूंह) से हरियाणा की पावन धरा पर प्रवेश करेगी। महंगाई, बेरोजगारी और कुशासन से त्रस्त हरियाणा की जनता विशेषकर युवा वर्ग बड़ी उत्सुकता के साथ इस यात्रा की प्रतीक्षा कर रहा है। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आवाह्न किया कि वे अधिक से अधिक संख्या में इस यात्रा में शामिल होकर इतिहास के गवाह बनें। उन्होंने बताया कि प्रदेश भर में इस यात्रा के प्रति भारी उत्साह है और राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रहे सभी भारत यात्रियों का हरियाणा आगमन पर भव्य एवं जोरदार स्वागत किया जाएगा। हरियाणा में इस यात्रा को सफल बनाने के लिये कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी जायेगी।

उन्होंने कहा कि भारत जोड़ो का मतलब है हर गांव, हर शहर को विकास की रफ्तार से जोड़ो, जैसा विकास कांग्रेस की हुड्डा सरकार के समय हुआ था। झज्जर में रेल लाइन बनी तो बहादुरगढ़ मेट्रो से जोड़ा गया। रोहतक में आईएमटी बनी तो बाढ़सा में एम्स और कैंसर संस्थान स्थापित हुआ। हर गांव हर शहर में विकास का पहिया घूमता दिखता था। भारत जोड़ो का मतलब है कर्मचारियों को पुरानी पेंशन स्कीम से जोड़ो जैसे राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार ने किया। भारत जोड़ो का संकल्प है बड़े-बुजुर्गों को देश में सबसे ज्यादा 6000 रुपये महीने की पेंशन से जोड़ो। आज हरियाणा में 2 लाख पद खाली पड़े हैं। स्कूलों में भर्ती नहीं हो रही है स्कूल बंद किये जा रहे हैं। भारत जोड़ो का मतलब है नौजवानों को 2 लाख नौकरियों से और रोजगार से जोड़ो। भारत जोड़ो का एक और संकल्प है कि हरियाणा जोड़ो साथ-साथ बीजेपी-जेजेपी का घमंड भी तोड़ो। जिन्होंने 750 किसानों की कुर्बानी का मजाक उड़ाया। दीपेन्द्र हुड्डा ने अपने 10 सूत्रीय जोड़ो कार्यक्रम के बारे में भी बताया कि नफरत को प्यार से जोड़ो, बेरोजगार को रोजगार से जोड़ो-खाली पड़े 2 लाख सरकारी पदों को तुरंत भरो, किसान को MSP गारंटी व सम्मान से जोड़ो-किसान आंदोलन में सरकार और किसानों के बीच हुए समझौते को तत्काल लागू करो, हर गरीब को पीला कार्ड, 100-100 गज के मुफ्त प्लाट व मकान से जोड़ो–जैसा कि हुड्डा जी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार में हुआ था, हर परिवार को 300 युनिट मुफ्त बिजली से जोड़ो, सरकारी कर्मचारी को पुरानी पेंशन स्कीम से जोड़ो, हर बुजुर्ग को 6000 रुपये महीना पेंशन से जोड़ो, व्यापारी को इन्स्पेक्टर राजमुक्त, भयमुक्त वातावरण से जोड़ो, हर गाँव, शहर को पूर्ववर्ती हुड्डा सरकार जैसे विकास से जोड़ो, हर जरूरतमंद बीमार को मुफ्त इलाज से जोड़ो।

दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि राहुल गांधी देश में बढ़ती बेरोजगारी और महंगाई के विरोध में कन्याकुमारी से कश्मीर तक भारत जोड़ो यात्रा पर निकले है। हरियाणा में बेरोजगारी और महंगाई चरम पर है और देश में सबसे ज्यादा है। हरियाणा के युवा जहां केंद्र व प्रदेश की बीजेपी सरकार की नीतियों के खिलाफ आक्रोशित हैं, वहीं आम जन आसमान छूती महंगाई से त्रस्त हो चुका है। रोजाना लाखों की तादाद में लोग इस यात्रा में साथ जुड़कर केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ अपना विरोध दर्ज करा रहे हैं। हरियाणा में भी भारत जोड़ो यात्रा में ऐतिहासिक जनभागीदारी होगी। इस अवसर पर प्रमुख रूप से विधायक डॉ. रघुबीर कादयान, विधायक गीता भुक्कल, विधायक राजेन्द्र जून, विधायक कुलदीप वत्स, राजेश जून, श्रीनिवास गुप्ता, रवि खत्री, नरेश हसनपुर, विनोद जांगड़ा, जिला पार्षद अमित उर्फ भोलू भदानी, जिला पार्षद अंकुर गुबाना, जिला पार्षद राजेंदर फौजी, दीपक धनखड़, जिला पार्षद गीता देवी शर्मा, जिला पार्षद फोर्ड माजरा, जिला पार्षद अमित कौसर, एसीपी राजबीर जाखड़, सुभाष गुर्जर, वीरेंदर दरोगा, गजानन्द गर्ग, जीता, पार्षद सरिता, पार्षद मिंटू पहलवान, पार्षद मोनू रजनीश, युवराज छिल्लर, पूर्व चेयरमैन आशीष दलाल, अरुण खत्री, अजय चिकारा, धर्मेन्दर वत्स, श्रीओम् अहलावत, राजपाल आर्या, प्रदीप लडरावन, तेजबीर दलाल, असलम खान, राज पहलवान, मामन, पवन वर्मा, राजू पंडित, कर्मबीर मेहराणा, दया पहलवान, राव उदयभान, सूरजभान जाखड़, गोविन्द गर्ग, रामगोपाल समेत बड़ी संख्या में स्थानीय नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 

 

Author

- विज्ञापन -

Latest News