अमृतसर कमिश्नर Jaskaran Singh की टीम की बड़ी सफलता, 5 पिस्टल, 62 बोर, 27 जिंदा रोंद व कार सहित 5 गिरफ्तार

अमृतसर: पुलिस कमिश्नर जसकरन सिंह के निर्देशानुसार और मुखविंदर सिंह भुल्लर पीपीएस, पुलिस उपायुक्त, प्रभजीत सिंह विराक पीपीएस, अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त 2, अमृतसर शहर में अपराध करने वाले व्यक्तियों की असामाजिक गतिविधियों में सक्रिय तत्वों को नियंत्रित करने के लिए शुरू की गई। मुहिम के तहत प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार सहायक पुलिस आयुक्त कमलप्रीत सिंह पीपीएस.

अमृतसर: पुलिस कमिश्नर जसकरन सिंह के निर्देशानुसार और मुखविंदर सिंह भुल्लर पीपीएस, पुलिस उपायुक्त, प्रभजीत सिंह विराक पीपीएस, अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त 2, अमृतसर शहर में अपराध करने वाले व्यक्तियों की असामाजिक गतिविधियों में सक्रिय तत्वों को नियंत्रित करने के लिए शुरू की गई। मुहिम के तहत प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार सहायक पुलिस आयुक्त कमलप्रीत सिंह पीपीएस 1-12-2022 खास से सूचना मिली थी कि बलदेव सिंह उर्फ ​​रवि निवासी कप्तानगढ़ सरबजीत सिंह उर्फ ​​सैम निवासी चिंट कोट तरनतारन, हरमन वासी चिन्त कोट तरन तारन, जोगिंदर सिंह उर्फ ​​डोगर निवासी छोटा काजी कोट तरन तारन, रॉबिन सिंह निवासी काजी कोट तरन तारन जो सभी एक साथ सफेद रंग की इनोवा कार नं PB13 AR1853 में खतरनाक हथियारों के साथ घूम रहे हैं। नारायणगढ़ क्षेत्र में तलाशी ली जाए तो उक्त वाहन हथियार सहित बरामद किया जा सकता है।

जिसमें से इंस्पेक्टर गुरविंदर सिंह, सुरमेल सिंह अपर मुख्य अधिकारी थाना चेहरटा, एएसआई बलविंदर सिंह प्रभारी चौकी टाउन छेहरता अमृतसर ने एक टीम गठित की और उक्त व्यक्तियों की तलाश शुरू की, फिर बलविंदर सिंह प्रभारी चौकी टाउन छेहरता अमृतसर के साथ 5 सुरमेल सिंह,अतिरिक्त मुख्य पुलिस अधिकारी थाना चेहरटा अपनी निजी कार से नारायणगढ़ चौक से 40 फीट दूर नारायणगढ़ चेहरटा जा रहे थे, तभी पुलिस की यह पार्टी नारायणगढ़ चौक और नारायणगढ़ बाजार में दाखिल हुई, सामने से एक सफेद रंग की इनोवा कार नं PB13 AR1853 आती दिखाई दी। जिसमें 5-6 संदिग्ध इस इनोवा कार में सवार थे, एएसआई बलविंदर सिंह ने उसके सामने अपनी निजी कार रोक दी और 5-6 लोग इनोवा कार से उतरे और पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर दी। उक्त आरोपी रोबिन सिंह ने एएसआई बलविंदर सिंह टाउन चौहरटा को मारने की नीयत से अपनी हैंड पिस्टल से फायर कर दिया तथा उक्त बलदेव सिंह उर्फ ​​रवि व उसके अन्य साथियों ने जान मारने की नीयत से 51 सुरमेल सिंह व अन्य कर्मचारियों को गोली मार दी। जिसे उक्त आरोपियों को गुरविंदर सिंह मुख्य अधिकारी थाना चेहरता अमृतसर ने साथी कर्मचारियों की मदद से गिरफ्तार किया।रोबिन सिंह उर्फ ​​रोबिन के पास 01 ग्लॉक पिस्टल के साथ 01 ओपन व 02 जिंदा राउंड तथा आरोपी बलदेव सिंह उर्फ ​​रवि के पास 01 ग्लॉक पिस्टल के साथ 02 ओपन व 05 जिंदा राउंड थे तथा नारायणगढ़ चेहरट से मोका व मुठभेड़ स्थल पर कब्जा कर लिया।

बलदेव सिंह उर्फ ​​रवि निवासी कप्तानगढ़ के अन्य साथी रॉबिन सिमघ उर्फ ​​रॉबिन निवासी काजी कोट तरन तारन सहित सरबजीत सिंह उर्फ ​​सैम निवासी चिंट कोट तरन तारन, हरमन निवासी चिंट कोट तरन तारन, जोगिंदर सिंह उर्फ ​​डोगर निवासी छोटा काजी कोट तरन तारन, गोपी निवासी बाबा असली घनपुर काले छेहरटा अमृतसर से फरार हो गया। एनकाउंटर के जगा नारायणगढ़ में एक खाली प्लॉट से 30 बोर व 02 छेद वाली एक पिस्टल से जिंदा गोली मार दी। जिससे सरबजीत सिंह सैम ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग की और पुलिस पार्टी ने भी खुद को और जनता को बचाने के लिए जवाबी फायरिंग की। जिस दौरान 06 चांद 9 एमएम 04 राउंड असॉल्ट रायफल से फायरिंग की गई, मुठभेड़ के बाद आरोपी रॉबिन बलदेव सिंह रवि के पास से 02 खोल व 05 रॉड व 01 खेल व 05 रॉड जिंदा बरामद किया गया। इनके द्वारा प्रयुक्त इनोवा कार नं PB13 AR1853 रंग की तलाशी लेने पर इनके पास से 32 बोर की 02 पिस्टल व 02 कारतूस बरामद हुए। इस गिरोह का सरगना कपटगढ़ निवासी मिड बलदेव सिंह रवि है और उक्त दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेश कर 5 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। मुखबिर की सूचना पर आरोपी गुरजिंदर सिंह उर्फ ​​बिल्ला हरदेव सिंह उर्फ ​​गोपी और वरिंदर सिंह उर्फ ​​मिठू को गांव सारण थाना अजनाला, अमृतसर ग्रामीण से गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों के पास से जिंदा 30 बोर के 03 राउंड व 32 बोर के 11 राउंड बरामद किए गए हैं।

आरोपी को आश्रय देने वाले गांव सारण थाना अजनाला अमृतसर ग्रामीण के मक्का पुत्र हीरा सिंह के खिलाफ थाना अजनाला अमृतसर ग्रामीण में मामला दर्ज किया गया है। जबकि आरोपी वरिंदर सिंह उर्फ ​​मिठू नारायणगढ़ पुलिस मुठभेड़ के दौरान फरार हो गया। नारायणगढ़ निवासी गुरजिंदर सिंह उर्फ ​​बिल्ला व हरदेव सिंह गोपी को गांव सारण थाना अजनाला अमृतसर लाया गया, गांव घनूपुर काले निवासी राहुल को भी मुकदमे में हाजा नामजद किया गया है। जिसे भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा, आरोपी से पूछताछ जारी है, और भी खुलासे की उम्मीद है।

Author

- विज्ञापन -

Latest News