चंडीगढ़ महिला कांग्रेस की अध्यक्ष का सवाल, क्यों नहीं घरों के बाहर खड़े वाहनों की पार्किंग फीस VIP सेक्टर से लागू की जाए

चंडीगढ़ के निवासियों पर स्ट्रीट पार्किंग का शुल्क वसूलने को लेकर आज चंडीगढ़ महिला कांग्रेस की अध्यक्ष दीपा दुबे ने कहा है कि प्रशासन द्वारा बनाई गई रणनीति सरासर तानाशाही रवैया को दर्शाता है। दीपा दुबे ने कहा कि प्रशासन द्वारा स्मार्ट सिटी का पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर सेक्टर-35 से घरों के आगे खड़े.

चंडीगढ़ के निवासियों पर स्ट्रीट पार्किंग का शुल्क वसूलने को लेकर आज चंडीगढ़ महिला कांग्रेस की अध्यक्ष दीपा दुबे ने कहा है कि प्रशासन द्वारा बनाई गई रणनीति सरासर तानाशाही रवैया को दर्शाता है।

दीपा दुबे ने कहा कि प्रशासन द्वारा स्मार्ट सिटी का पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर सेक्टर-35 से घरों के आगे खड़े वाहनों से पार्किंग फीस चार्ज करने का फैसला सरासर गलत है इसका विरोध चंडीगढ़ महिला कांग्रेस भी करती है। चंडीगढ़ प्रशासन और नगर निगम चंडीगढ़ के नागरिकों पर क्यों टैक्स पर टैक्स लगाकर नागरिकों का गला घोटने लगी है।

सेक्टर 35 में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर किया जा रहा है लागू
दीपा दुबे ने कहा कि स्ट्रीट पार्किंग का शुल्क प्रशासन और नगर निगम को वीआईपी सेक्टर 7, जहां शहर की सांसद किरण खेर और प्रशासक के सलाहकार का घर है वहां से शुल्क लेना शुरू करना चाहिए। ताकि एसी कमरों में बैठकर फरमान जारी करने वाले अधिकारियों को पता लगे कि चंडीगढ़ के नागरिकों पर टैक्स पर टैक्स लगाकर कितना परेशान किया जा रहा है।

चंडीगढ़ के हर सेक्टर में खाली जगह या एडमिनिस्ट्रेशन की जगह खाली पड़ी है प्रशासन और नगर निगम क्यों नहीं खाली जगह को फ्री पार्किंग के लिए चिन्हित करता। दीपा दुबे ने कहा कि जब आरटीओ वाहन रजिस्टर करता है तब नागरिक से रोड टैक्स की फीस साथ में ही ले लेता है तो आज नगर निगम और प्रशासन फिर से क्यों स्ट्रीट पार्क की फीस ले रहा है।

Author

- विज्ञापन -

Latest News