Pak को अगर एशिया कप की मेजबानी से वंचित किया तो भारत में 2023 के वनडे विश्व कप का बहिष्कार: Ramiz Raja

लाहौरः पीसीबी प्रमुख रमीज राजा ने दोहराया है कि अगर पाकिस्तान को 2023 में एशिया कप की मेजबानी के अवसर से वंचित किया जाता है तो उनकी क्रिकेट टीम अगले साल भारत में होने वाले वनडे विश्व कप का बहिष्कार कर सकती है। हालांकि, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष ने उल्लेख किया कि वह चाहते.

लाहौरः पीसीबी प्रमुख रमीज राजा ने दोहराया है कि अगर पाकिस्तान को 2023 में एशिया कप की मेजबानी के अवसर से वंचित किया जाता है तो उनकी क्रिकेट टीम अगले साल भारत में होने वाले वनडे विश्व कप का बहिष्कार कर सकती है। हालांकि, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष ने उल्लेख किया कि वह चाहते हैं कि दोनों देश फिर से एक दूसरे की मेजबानी करें। दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण राजनीतिक संबंधों के कारण 2013 से पाकिस्तान और भारत आईसीसी टूर्नामेंट के अलावा कहीं और नहीं खेले हैं।

इससे पहले, इस अक्टूबर में, दोनों क्रिकेट बोडरें के बीच तनाव फिर से शुरू हो गया, जब बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कथित तौर पर कहा था कि टीम इंडिया पाकिस्तान की यात्रा नहीं करेगी और एक तटस्थ मेजबान के लिए स्थल में बदलाव की मांग की हैं। जवाब में, पीसीबी ने अगले साल एशिया कप के एक महीने के भीतर होने वाले वनडे विश्व कप से हटने की धमकी दी हैं। शनिवार को स्काई स्पोर्ट्स क्रिकेट से बात करते हुए, रमीज राजा ने कहा, कि ‘हम वास्तव में वहां नहीं जाना चाहते हैं, लेकिन यह सिर्फ इतना है कि प्रशंसक चाहते हैं कि हम प्रतिक्रिया दें। भारत-पाकिस्तान के बारे में भारत की जो कहानी रही है, उसके कारण प्रशंसक बिल्कुल खुश नहीं हैं।’’

रमीज ने आगे बीसीसीआई के रुख को ‘अनुचित’ बताया और कहा कि पीसीबी एशिया कप के लिए स्थान में बदलाव का विरोध करेगा। उन्होंने कहा, कि ‘मुझे लगता है कि सरकार की एक नीति है और मुङो नहीं पता कि वे आएंगे या नहीं।’’ एशिया कप प्रशंसकों के लिए बहुत मायने रखता है, यह एक बहु-देशीय टूर्नामेंट है। हम विरोध करेंगे।’’ उन्होंने कहा, कि ‘मैं भारत-पाकिस्तान मुकाबलों के पक्ष में हूं, मैंने यह आन रिकॉर्ड कहा है। मैं प्रशंसकों से प्यार करता हूं, और वे हमें भी पसंद करते हैं। पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एक ब्रांड बन गया है, खिलाड़ियों को भारत में प्रशंसक मिल गए हैं, और मुझे पता है कि भारत के बाद भारत में दूसरी सबसे ज्यादा देखी जाने वाली टीम पाकिस्तान है, इसलिए वे हमारे विकास में रुचि लें।’’ उन्होंने कहा, कि ‘हम जाना और खेलना चाहते हैं, लेकिन तथ्य यह है कि यह समान शर्तों पर होना चाहिए। आप एक निश्चित क्रिकेट बोर्ड के अधीन नहीं हो सकते। हम अब भारत के बिना अच्छी संख्या में क्रिकेट खेल रहे हैं।’’

Author

- विज्ञापन -

Latest News